गुरुवार, 19 नवंबर 2015

राना लिधौरी’ को मिला ‘साहित्य सृजन सम्मान-2015’ -अशोकनगर

राना लिधौरी’ को मिला ‘साहित्य सृजन सम्मान-2015’ 




rajeev namdeo rana lidhori

टीकमगढ़/    /नगर के ख्यातिप्राप्त साहित्यकार,कवि-शायर एवं म.प्र.लेखक संघ के जिलाध्यक्ष राजीव नामदेव ‘राना लिधौरी’ को उनकी रचनाधर्मिता एवं सतत् सृजन शीलता के लिए मध्यप्रदेश लेखक संघ की जिला इकाई अशोकनगर द्वारा 35 वें आंचलिक साहित्यकार सम्मान 2015 में ‘’साहित्य सृजन सम्मान 2015 से सम्मानित किया। राना लिधौरी को स्मृति चिह्न श्रीफल,श्री शाल एवं आकर्षक सम्मान पत्र भैंट कर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि भोपाल से श्री राधावल्लभ आचार्य प्रदेशाध्यक्ष, योगेश शर्मा, अरविन्द्र चतुर्वेदी, राकेश वर्मा ‘हेरत’ मंचासीन थे।
गौरतलब होे कि राजीव नामदेव ‘राना लिधौरी’ की पुरस्कृत पुस्तक ‘नौनी लगे बुन्देली’ विश्व में बुन्देली का प्रथम हाइकु संग्रह है। राना की ‘अर्चना’,‘रजनीगंधा’,‘नौनी लगे बुंदेली’एवं राना का नज़ऱाना’’ चार पुस्तकें छप चुकी है एवं अनेक पत्र पत्रिकाओं का संपादन कर चुके है,वर्तमान में आप टीकमगढ़ जिले की एकमात्र साहित्यिक पत्रिका ‘आंकाक्षा’ का सफल संपादन विगत नौ वर्षो से करते आ रहे है तथा साहित्यिक संस्था म.प्र.लेखक संघ के टीकमगढ़ के जिलाध्यक्ष के पद पर विगत 11वर्षौ से सुशोेभित है। इस उपलब्धि पर राजीव नामदेव ‘राना लिधौरी’ को नगर के साहित्यकारों एवं शुभचिंतकों ने बधाईयाँ एवं शुभकामनाएँ दी।                             
                           
रपट-     राजीव नामदेव ‘राना लिधौरी’
  अध्यक्ष म.प्र.लेखक संघ,टीकमगढ़,
  मोबाइल-9893520965






कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें